Breaking News

इन 4 कार्यो को करने के बाद कभी भी पूजा पाठ में ना बैठे, क्रोधित होते है भगवान

प्रत्येक धर्म में पूजा पाठ से जुड़े अलग नियम होते है | पूजा पाठ से भगवान प्रसन्न होते है, ऐसे में भगवान की आराधना और पूजा पाठ से पहले कुछ चीजों का ध्यान रखना जरुरी होता है | जिनके बारे में आज हम बताने जा रहे है | कई बार हम अनजाने में कुछ ऐसा कर जाते है, जिसकी वजह से हमे पाप का भागी बनना पड़ता है |

पूजा पाठ से पहले की गयी कुछ गलतियां हमारे जीवन में दुखो का कारण बन जाती है | ऐसे में आज हम आपको कुछ उन कामो के बारे में बताने जा रहे है जो पूजा पाठ से पहले नहीं करने चाहिए |

Loading...
 
मांसाहार करने के बाद
 
 
इस बात से सभी वाकिफ है कि मांसाहार के बाद पूजा पाठ में नहीं बैठना चाहिए | साथ ही ये भी बताया जाता है कि मांसाहार के बाद कभी भी मंदिर में प्रवेश नहीं करना चाहिए | जिस दिन आपने मांसाहार किया है, उस दिन किसी भी पूजा से दूर रहे और अगले दिन गंगाजल से शुद्ध होकर ही पूजा पाठ में शामिल हो |
शौच के बाद
 
 
आमतौर पर शौच के बाद नहाकर हम पूजा पाठ करते है | शास्त्रों में भी बताया गया है, कि शौच के बाद नहाकर ही पूजा पाठ में शामिल होना चाहिए, अन्यथा पाप का भागी बनना पड़ता है | ऐसे में यदि आपको स्नान के बाद फिर से शौच जाना पड़े तो फिर आप पूजा पाठ में शामिल ना हो | यदि शामिल हो रहे है तो पुनः स्नान करना आवश्यक है |
 
लड़ाई झगड़े के बाद
 
 
कभी भी लड़ाई झगड़े के बाद पूजा पाठ में शामिल नहीं होना चाहिए, क्योंकि भगवान की आराधना में हमेशा एक शांत मन की आवश्यकता होती है | झगड़े की वजह से हमारा मन क्रोधित और अशांत होता है | ऐसी स्थिति में पूजा पाठ में शामिल होना नुकसान पहुँचाता है साथ ही इससे कोई फल भी प्राप्त नहीं होता है |
 
गंदे वस्त्रो में 
 
 
कभी भी गंदे वस्त्रो में पूजा पाठ में शामिल नहीं होना चाहिए | ऐसी स्थिति में पूजा में शामिल होना नकारात्मकता लाता है | इसीलिए हमेशा पूजा पाठ से पहले नहाकर साफ़ वस्त्र पहने जाते है |
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/