Breaking News

अब इस महर्षि के नाम से जाना जायेगा बस्ती, नाम बदलने की तैयारी में जुटी योगी सरकार

गोरखपुर। उत्तर प्रदेश में जिलों के नाम बदलने का सिलसिला जारी है। योगी सरकार मुगलसराय जिले का नाम बदलकर पंडित दीनदयाल उपाध्याय नगर, इलाहबाद और फैजाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज और अयोध्या करने के बाद अब बस्ती जिले के नाम बदलने की तैयारी में है। नाम बदले जाने पर एक करोड़ रुपये का खर्च आएगा। शासन के निर्देश पर जिला प्रशासन ने यह रिपोर्ट उसे भेज दी है।

बस्ती का नाम बदले जाने की आवाज लंबे समय से उठ रही है। एक साल पूर्व बस्ती महोत्सव के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बस्ती मेडिकल कालेज का नाम महर्षि वशिष्ठ के नाम पर रखे जाने का एलान किया तो जनपद का भी नाम बदले जाने की मांग तेज हो गई। पड़ोसी जिले फैजाबाद का नाम अयोध्या किया गया तो बस्ती का नाम भी बदले जाने को लेकर सरकार पर दबाव बढ़ गया।

Loading...

28 नवंबर को पहली बार बस्ती जनपद का नाम बदले जाने का प्रस्ताव तैयार कर राजस्व परिषद को भेजा गया। इसके बाद राजस्व परिषद की ओर से नाम बदले जाने की स्थिति में होने वाले व्यय की जानकारी मांगी गई थी। खर्च आकलन कराने के बाद जिलाधिकारी ने मंडलायुक्त को रिपोर्ट दी और संशोधित प्रस्ताव के साथ मंडलायुक्त अनिल कुमार सागर ने राजस्व परिषद को भेज दिया है।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/