Breaking News

झारखंड के इस पूर्व सांसद व मंत्री के है 58 पत्नियाँ, बच्चों की संख्या जानकर उड़ जाएंगे होश

आज हम आपको एक ऐसे व्यक्ति से मिल वाएंगे, जो पांच बार सांसद, चार बार विधायक और मंत्री रह चुके हैं। जिनका नाम बागुन सुम्ब्रुई है, 24 फरवरी 1924 में उनका जन्म हुआ था। बागुन सुम्ब्रुई ने 94 की उम्र में भी कभी कमर के ऊपर कपड़े नहीं पहने हैं। वह हमेशा धोती पहनकर ही ससंद भवन और विधानसभा जाया करते थे। और वह दो कमरों के घर में रहते हैं।

बागुन सुम्ब्रुई ने 1945 में 10वीं क्लास पास की थी। वह झारखंड के चाईबासा जिले के निवासी है। जिन्हे लोग बागुन बाबू के नाम से जानते हैं। 1977 में वह पहली बार सांसद चुने गए थे, और 1991 तक तीन बार सांसद रहे थे। और 1967 में पहली बार बिहार विधानसभा में चुनकर पहुंचे थे, और 1977 तक वे विधायकी के तीन टर्म पूरे कर चुके थे। इन सब में चौकाने वाली बात ये हैं कि चाहे सर्दी हो या फिर गर्मी वो हर मौसम में सिर्फ धोती ही पहनते हैं।

बागुन सुम्ब्रुई की पहली शादी 1942 में हुई थी, इनकी कई सारे बेटे-बेटियां और पोते-पोतियां हैं। आपको जानकर हैरानी होगी लेकीन बात सच है कि इन्होने दो दर्जन से अधिक शादियां की हैं। फिर भी उन्हें किसी भी तरह की परेशानी का सामना करना नहीं पड़ा। आपको बता दें कि आदिवासी समुदाय में एक से अधिक पत्नियां रखने पर कोई रोक-टोक नहीं है। बागुन सुम्ब्रुई 16108 शादियां करने वाले भगवान कृष्ण को अपना प्रेरणा का स्त्रोत मानते हैं। बागुन सुम्ब्रुई ने भी कृष्ण की तरह वंचित-शोषित महिलाओं की मदद करने के लिए उन्हें अपने साथ रखा।

Loading...

सुम्ब्रुई ने इसकी वजह बताते हुए कहा कि ‘वे कभी किसी लड़की या महिला के पीछे नहीं भागे, बल्कि वो ही चलकर उनके पास आईं। यदि उनकी ओर खुद आकर्षित हो रही थीं, तो उस में मैं क्या कर सकता था? मैं उनको निराश नहीं करना चाहता था। जो मुझसे शादी करना चाहती थीं। उन्होंने बताया कि ज्यादातर आदिवासी महिलाओं ने उनसे तब शादी की, जब वे सांसद बने थे, और अनीता कुमारी उन्हीं में से एक थीं।’

उनकी पहली पत्नी की बेटी और अनीता कुमारी क्लासमेट थीं। अनीता एक स्कूल में टीचर थीं। इस बारे में बात करते हुए अनीता ने कहा कि ‘यह सच है कि मैं राजनीति में जाना चाहती थी, लेकिन सुम्ब्रुई साहब हमेशा से एजुकेशन को प्रमोट करते रहते थे। यही वजह रही कि मैंने अपने गुरु और गाइड से शादी कर ली।’ पति दवारा दूसरी शादी के सावल पर उन्होंने कहा कि, ‘मैं उनकी चौथी पत्नी हूं और इसके अलावा कोई दूसरा नहीं है।’ बीच कई महिलाएं बागुन बाबू की पत्नी होने का दावा करती भी थीं। जिसको लेकर लोगों का मन्ना था कि पूर्व मंत्री और सांसद की तकरीबन 58 पत्नियां हैं, जबकि कुछ लोग 40 बताते हैं।

बागुन सुम्ब्रुई की 22 June 2018 को मौत हो गई

error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/