Breaking News

उत्तराखण्ड : 3 साल तक नहीं बढ़ेगा केदारनाथ का हवाई किराया, नहीं मिली ये सेवाएँ तो लगेगा 2 लाख रुपये का जुर्माना

देहरादून : नागरिक उड्डयन विभाग केदारनाथ हवाई सेवा के लिए टेंडर प्रक्रिया प्रारंभ कर दी है। इस बार विभाग ने टेंडर अवधि तीन साल की रखी है। इस तरह इस बार तय किराया अगले तीन वर्ष तक जारी रहेगा। उत्तराखंड नागरिक उड्डयन विकास प्राधिकरण (उकाडा) ने केदारनाथ और हेमकुंड साहिब धाम के लिए हेली सेवा देने को टेंडर जारी कर दस फरवरी तक आवेदन मांगे हैं। इसमें टेंडर तीन वर्ष के लिए होने की शर्त रखी है।

इस तरह चयनित ऑपरेटर तीन साल सेवा प्रदान करेंगे, साथ ही टिकट भी अगले तीन साल के लिए तय हो जाएगा। टेंडर में स्पष्ट किया गया है कि यदि कोई ऑपरेटर आपात स्थिति में हेलीकॉप्टर उपलब्ध नहीं कराता है, तो उस पर दो लाख रुपये तक का जुर्माना लगाया जाएगा। विभाग ने पहले केदारनाथ की तर्ज पर बदरीनाथ के लिए भी शटल सेवा प्रस्तावित की थी।

Loading...

लेकिन इस पर ऑपरेटर सहमत नहीं हुए। इससे विभाग ने अब बदरीनाथ के लिए शटल सेवा का प्रस्ताव निरस्त कर दिया है। अब शटल सेवा सिर्फ केदारनाथ और हेमकुंड साहिब के लिए होगी। शेष धामों के लिए चार्टड सेवाएं ही चलेंगी।

Loading...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/