Breaking News

अभी और रुलाएगा प्याज, 140 रुपए प्रति किलो जा सकते हैं दाम

प्याज की कीमतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। सरकार ने कई कोशिशें कीं और लगातार प्रयास कर रही है कि प्याज के दाम में कमी आए लेकिन तमाम प्रयासों के बावजूद प्याज के दाम कम नहीं हो रहे हैं। अब उससे भी बुरी खबर है कि प्याज की कीमतें कम होना तो छोड़ दीजिए बल्कि यह और बढऩे वाली हैं। प्याज की कीमतें अब और रुलाएंगी क्योंकि सूत्रों के अनुसार इसके दाम 140 रुपए किलो तक जा सकते हैं। देश ही नहीं बल्कि एशिया की सबसे बड़ी प्याज मंडी लासलगांव में प्याज की कीमत 113 रुपए प्रति किलो तक पहुंच चुकी है।

जानकारों के मुताबिक जब एशिया की सबसे बड़ी मंडी में प्याज 113 रुपए किलो बिकेगा तो आम जनता तक पहुंचते-पहुंचते इसकी कीमत करीब 140 रुपए आसानी से हो जाएगी। प्याज कारोबारियों की मानें तो यह कीमत 140 के पार भी पहुंच सकती है।

Loading...

प्याज की कीमतें बढऩे का दूसरा बड़ा कारण है पर्याप्त स्टॉक की कमी। उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय के आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार महाराष्ट्र में खुदरा प्याज की कीमत सोमवार को 75-85 रुपए की तुलना में 90 रुपए प्रति किलोग्राम हो गई। वहीं बाजार में प्याज की उपलब्धता कम है और किसानों के पास स्टॉक कम होने के कारण सप्लाई में तेजी से गिरावट व कीमतों में बढ़ौतरी होगी। हालांकि सरकार मिस्र, तुर्की और कुछ अन्य देशों से प्याज आयात करवा रही है लेकिन खपत के लिहाज से यह आयात भी कम पड़ रहा है जिस कारण निकट भविष्य में प्याज की कीमतें और बढ़ सकती हैं।

आजादपुर मंडी के थोक व्यापारी राजेंद्र शर्मा ने बताया कि गुजरात की फसल तैयार हो गई है और गुजरात व आसपास के इलाकों में वहां का प्याज मिलने भी लगा है लेकिन उत्तर भारत तक गुजरात के प्याज की आपूॢत तेज होने में अभी 10 दिन का समय लगेगा। गुजरात में प्याज की अच्छी फसल हुई है और गुजरात से प्याज की आपूॢत आरंभ होने के बाद प्याज की कीमत आधी रह जाएगी। 20-25 दिसम्बर से महाराष्ट्र की फसल भी बाजार में आने लगेगी। दोनों ही जगहों पर प्याज की अच्छी फसल है। अभी उत्तर भारत में 70 प्रतिशत प्याज की आपूॢत राजस्थान से हो रही है।

Loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!