Breaking News

टूटता दिख रहा है महाराष्ट्र में शिवसेना का सरकार बनाने का सपना, कांग्रेस नहीं कर पा रही है…

महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर असमंजस की स्थिति बरकरार है. कांग्रेस तय नहीं कर पा रही है कि वह सरकार बनाने में शिवसेना का सहयोग करेगी या नहीं. हालांकि, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) को सरकार बनाने का न्योता मिलने के बाद कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने आज कोर कमेटी की बैठक बुलाई है. इस बीच कांग्रेस के अंदर से दो सुर सामने आ रहे हैं. एक ओर केसी पडवी ने सरकार बनाने का समर्थन किया तो वहीं संजय निरुपम ने शिवसेना के साथ गठबंधन का विरोध किया.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता संजय निरुपम ने कहा कि कांग्रेस के पास महाराष्ट्र में सरकार बनाने की कोई नैतिक जिम्मेदारी नहीं है. अस्थिरता के लिए हम पर कोई भी आरोप लगाना गलत है. यह बीजेपी और शिवसेना की विफलता है, जिसने राज्य को राष्ट्रपति शासन की चौखट पर ला खड़ा किया है. वहीं, केसी पडवी ने कहा कि प्रक्रिया अभी भी चल रही है, लेकिन अंतिम रिजल्ट सकारात्मक होगा. व्यक्तिगत रूप से मुझे लगता है कि तीनों (शिवसेना-कांग्रेस-एनसीपी) पार्टी सरकार बनाएंगे और शिवसेना का नेता सीएम होगा.

शिवसेना ने जुटा पाई बहुमत का आंकड़ा

Loading...

महाराष्ट्र में सत्ता की हलचल तेज तो हुई लेकिन सरकार बनने की कोई सूरत अभी भी नहीं. सोमवार को शिवसेना को सरकार बनाने के बारे शाम साढ़े सात बजे तक राज्यपाल को बता देना था, लेकिन वो इसमें नाकाम रही. उसे राज्यपाल ने आज रात साढ़े आठ बजे तक समय दिया है. कांग्रेस ने बैठक की लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला. इस बीच एनसीपी नेता अजीत पवार राजभवन पहुंचे और सरकार बनाने को लेकर राज्यपाल से बात की.

Loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!