Breaking News

फैसले से पहले अयोध्या में इन चीजों पर लगी रोक, साधु संतों से लेकर मौलाना में मचा हड़कंप

अयोध्या. राम जन्म भूमि का मुद्दा हर दिन अब गरमाने लगा है। फैसले की तारीख करीब आते देख प्रशासन ने यहां सुरक्षा व्यवस्था सख्त बनाने की कवायद शुरू कर दी है। सांप्रदायिक सौहार्द व सामाजिक सामंजस्य बना रहे, इसके लिए अयोध्या में रामजन्मभूमि एवं बाबरी मस्जिद से जुड़े किसी भी कार्यक्रम पर रोक लगा दी गई है। कोई भी व्यक्ति, समूह व संगठन रामजन्मभूमि एवं बाबरी मस्जिद से जुड़े समारोह, पदयात्रा, जनसभा नहीं करेगा, जिससे धार्मिक भावनाएं आहत हों।

यहां तक कि बैनर-पोस्टर का भी इस्तेमाल नहीं होगा। पहली बार सार्वजनिक स्थान से लेकर लोगों के घर तक निषेधाज्ञा के दायरे में आए हैं। घर के आसपास व छतों पर कंकड़, पत्थर, खाली बोतल, शीशा का टुकड़ा आदि ऐसी सामग्री, जिनका उपयोग शांति व्यवस्था को प्रभावित करने के लिए हो सकती है। उसके संग्रह पर पाबंदी लगा दी गई है। मीडिया की डिबेट और परिचर्चा भी बगैर सक्षम अधिकारी की अनुमति के नहीं हो सकेगी। सुरक्षातंत्र भी सुनियोजित तैयारी के साथ आगे बढ़ रहा है। अधिकारियों व जनता तक अपनी बात पहुंचाने के लिए सोशल मीडिया को अहम माध्यम बनाया गया है। फोर्स का व्यवस्थापन और अन्य गतिविधियां बेहतर हो सके, इसके लिए स्पेशल सेल का गठन किया गया है। सेल में एक प्रभारी और सहयोगियों की तैनाती कर दी गई है।

Loading...

राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद विवाद पर होने वालेे संभावित फैसले को देखते हुए अयोध्या की सुरक्षा में सख्ती बढ़ती जा रही है। परिसर के यलो ज़ोन में दर्शन मार्ग के अलावा सभी रास्ते बंद कर दिए जाने के साथ राम जन्मभूमि क्षेत्र में प्रसाद बेचने व रामकोट क्षेत्र में रहने वाले लोगों के सत्यापन कर परिचय पत्र जारी किया जाएगा। मंदिर मस्जिद विवाद पर संभावित फैसले को लेकर अयोध्या के यलो ज़ोन की सुरक्षा में पैरामिलिट्री फोर्स लगाई जा रही है। वहीं हनुमान गढ़ी के रास्ते रामलला को जाने वाले दर्शन मार्ग के अलावा अन्य सभी मार्गों से श्रद्धालुओं के प्रवेश को रोक दिया गया है। माना जा रहा है कि फैसले की समय नजदीक आते ही इन मार्गों को पूरी तरह सील कर दिया जाएगा । परिसर की सुरक्षा को देखते हुए आसपास रहने वालों नागरिकों का सत्यापन कर परिचय पत्र दिया जाएगा। जिसके लिए सभी के फ़ोटो व आधार कार्ड जमा कराया जा रहा है।

जब इसकी जानकारी सीओ अयोध्या अमर सिंह से बात किये जाने पर बताया कि परिसर के आसपास रहने वालों को बैरियर काफी दिक्कतें होती है आये दिन सुरक्षाकर्मियों से विवाद सामने आने के कारण स्थानीय लोगों के पास बनाये जा रहे है। स्थानीय निवासी अपने घरों तक अपने वाहनों को नहीं ला पा रहे थे जिसको लेकर यह कार्ड बन रहा है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/