Breaking News

पीएम मोदी का विमान अपग्रेड होकर हो जायेगा दुनिया का सबसे ताकतवर विमान, जानिए क्या होगा अपग्रेड

आज हम बात करने जा रहे हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विमान के बारे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विमान एक अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के विमान की तरह मिसाइल हमले को नाकाम करने वाला होगा प्रधानमंत्री के प्रयोग प्रयोग के लिए 777 विमान एयर इंडिया वन जून 2020 तक भारत आ जाएगा इस विमान के बारे में बता दें यह विमान एंटी मिसाइल तकनीक से पूरी तरह लैस होगा

प्रधानमंत्री मोदी राष्ट्रपति कोविंद और उपराष्ट्रपति नायडू

इस विमान का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और उपराष्ट्रपति एनके नायडू द्वारा किया जाएगा अगर अब की बात करें तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू एयर इंडिया के 747 विमान का प्रयोग करते हैं एंटी मिसाइल तकनीक से युक्त जो विमान जून 2020 तक आ रहा है अगर उसके बारे में बात करी जाए तो वह एक बार में इतना ईंधन संग्रह करता है कि वह भारत और अमेरिका के बीच उड़ान भर सकता है और बता दें कि इस विमान के लिए $190000000 में समझौता हुआ है इस साल फरवरी में अमेरिका इस विमान के लिए दो मिसाइल डिफेंस सिस्टम बेचने पर सहमत हो गया था एंटी मिसाइल तकनीकी को एयर इंडिया बन में लगाने के लिए करीब 19 करोड़ डॉलर का समझौता किया गया था

क्या है एयर इंडिया विमान

Loading...

भारत सरकार ने एक सोच समझकर बड़ा फैसला लिया है कि जो भी वीवीआईपी लोगों उनकी सुरक्षा के लिए एयर इंडिया बन को मंजूरी दी थी जो कि 2 दशकों से वीवीआईपी लोगों की सेवा कर रही थी एयर इंडिया की 447 जंबो जेट की जगह अगर इंडिया बन ने ले ली है यह विमान एक विशेष प्रकार के धातु से बनाया बनाए और इस विमान में आधुनिक सेवाएं और तकनीकी उपलब्ध उपलब्ध है

ऐसे करेगा बचाव

एंटी मिसाइल तकनीकी जो बड़े मिसाइल होते हैं उनको एक सुरक्षा का कवच प्रदान करती है यह सिस्टम स्थापित होने के बाद क्यों वार्निंग की अवधि को बढ़ाया इस विमान की खासियत है कि यह चालक दल के बिना एक्शन में आए अपना काम करना शुरू कर देगा पायलट को बस सूचित किया जाएगा कि एक मिसाल का पता लगा है और पायलट को बस इतना ही संकेत दिया जाएगा कि प्लेन द्वारा की एक मिसाइल का पता लगाएं और इस प्लेन के द्वारा उस मिसाइल को वही की वही तुरंत खत्म कर कर जाम कर दिया जाएगा जिससे वीवीआइपी लोग जिस प्लेन में सफर कर रहे हैं उसको कोई क्षति ना पहुंचे और ना ही इसमें पायलट को कमांड देने की जरूरत पड़ेगी यह एंटी मिसाइल तकनीकी बड़े ही सूज भुज के साथ विमानों को दी जाती है जिससे उनकी सुरक्षा भली-भांति कर सकें

Loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!