Breaking News

लडकियों को रात में सोते समय नहीं पहनने चाहिए पैंटी, फायदे जानकर नहीं करेंगे यकीन

दोस्तों आज हम आपको अपने पोस्ट के माध्यम से आपको जीवन शैली के कुछ रोचक तत्वों के बारे में बता रहा हूँ आप अक्सर देखते होंगे कि  महिलाओं और पुरुषो के जेहन में कई तरह के सवाल अपने कपड़ो के नीचे पहने जानी वाली अंडरवियर को लेकर होते है की क्या अंडरवियर को रात को पहनकर सोना सही होता है कुछ लोग सेहत के हिसाब से जुडी इस कशमश में झूझते हुए से दिखते है ऐसे में आपका यह सवाल एकदम सही है दरअसल रात में अगर आप अंडवियर पहनकर नही सोएगे तो आपकी स्किन को किसी तरह का कोई खतरा नही होगा । दरअसल रात में अंडरवियर पहननकर सोने से स्वास्थ्य पर असर पडता है

बिना अंडरवियर के सोने से आपके योनि को किसी प्रकार के इंफेक्‍शन का खतरा नहीं होता है। सुरक्षा और सहजता की दृष्टि से रात में अंडरवियर को पहनकर नही सोना बेहद फायदेमंद है। शरीर के प्राइवेट पार्ट की सुरक्षा के लिए रात में अगर आप अंडरवियर पहनकर नही सोएगी तो आप कंर्फेटेबल महूसस करेगी। अंडरवियर को रात को नही पहनकर नही सोने से जननांग क्षेत्र सुरक्षित रहेगे। और आपकी सेहत को किसी तरह का कोई नुकसान नही होगा।

अंडरवियर पहनने से व्यक्ति को सहज महसूस होता है। कॉटन के कपड़े का अंडरवियर पहनने से व्यक्ति महसूस करता साथ ही जननांग के अंग भी सुरक्षित रहते है। हालांकि सोते समय इसे उतारकर सोना आपके लिए लाभकारी होगा।

महिलाओं और पुरुष दोनों रात में अंडरवियर बिल्कुल भी ना पहनकर सोए। सुबह नहाने के बाद हर व्यक्ति नहाने के तुरंत बाद अंडरवियर को पहन लेता है

Loading...

Related image

अंडरवियर बॉडी पर फिटिड होते हैं जिसकी वजह से त्वचा सांस नहीं ले पाती है। शरीर के बाकि अंगों की तरह जेनाइटल हिस्सों का सांस लेना भा उतना जरुरी होता है। क्योंकि यह अंग संवेदनशील है जिसकी वजह से इंफेक्शन होने का खतरा रहता है। इसलिए सोने से पहले अंडरवियर उतारकर सोना आपकी सेहत के लिए बेहतर होगा।

सारे दिन पहनी जाने वाली अंडरवियर से आपके शरीर के कई हिस्सों पर बेहद प्रभाव पड़ता है इसलिए जब भी आप रात में अंडरवियर उतारकर सो रहे है तो मॉइश्चर उस जगह पर लगाए जो आपके लिए एकदम ठीक होगा।

अंडरवियर पहनने से जलन और खुजली स्किन पर होने लगती है दरअसल पेशाब करते समय अंडरवियर पर कुछ बूंदे गिर जाने की वजह कई तरह बैक्टिरिया भी पैदा हो जाते है। जो जलन और खुजली की परेशानी की वजह बनते है।

Loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!