Breaking News

छोले भटूरे खाने के हैं शौकीन तो बेफ़िक्र होकर खाएं,काबुली चने में छिपे हैं अनेकों पोषक तत्व

हमारे देश में छोले भटूरे और छोले चावल खाने के दीवाने बहुत से लोग हैं। हर खास मौके और अवसर पर लोग छोले जरूर बनाते हैं । लेकिन आजकल लोग अपनी सेहत का ध्यान रखते हुए छोले भटूरे खाना काफी कम कर चुके हैं। आप भले ही भटूरे ना खाएं लेकिन छोले खाना आपकी सेहत को कोई नुकसान नहीं पहुंचाता है। आज हम आपको काबुली चने खाने के कुछ खास हेल्थ से जुड़े फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें जानने के बाद आप भी काबुली चने खाना फिर से शुरू कर देंगे। तो आइए जानते हैं कि काबुली चने खाने के कौन से फायदे हो सकते हैं।

 

सबसे पहले आपको बता दें कि काबुली चना प्रोटीन का एक अच्छा स्रोत होता है। आम दालों की तुलना में काबुली चने मैं 15 प्रतिशत ज्यादा प्रोटीन की मात्रा पाई जाती है। जी हां यदि आप वेजेटेरियन हैं तो आपको चिकन से मिलने वाला प्रोटीन काबुली चने से ही मिल जाता है। बता दें कि काबुली चने का सेवन डायबिटीज के मरीज़ों के लिए काफी अच्छा माना जाता है। गौरतलब है कि काबुली चना हाई ब्लड शुगर लेवल को काफी कंट्रोल करता है और इसके फलस्वरूप ही डाईबिटीज जैसे रोगों से भी छुटकारा पाने में आसानी होती।

Loading...

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि काबुली चने में आयरन की मात्रा भी काफी ज्यादा पाई जाती है। इसका सेवन आपको अनीमिया जैसे रोगों से बखूबी बचा सकता है। आपको बता दें कि काबुली चने में आयरन की मात्रा काफी ज्यादा होने की वजह से इसे डॉक्टर अनीमिया के रोगियों के साथ प्रेग्नेंट महिलाओं को भी खाने की सलाह देते हैं। गौतलब है कि इसमें मौजूद आयरन ब्रेस्टफीडिंग के दौरान नई माँ को बच्चे के पोषण में काफी मदद करता है।इसके अलावा आपको बता दें कि काबुली चने का सेवन स्प्राउट्स के रूप में करने पर ये वेट लॉस में भी काफी फ़ायदेमंद साबित होता है। बता दें कि काबुली चने में मौजूद फाइबर पेट भरता है और आपको बाहर के ऑयली और फैटी फ़ूड खाने से भी काफी हद तक बचाता है।

आपको बता दें कि काबुली चने में करीबन 28 प्रतिशत तक फास्फोरस पाया जाता है जो कि आपके दांतों को मजबूत बनाता है। इसके आलवा बता दें कि काबुली चना खाने से शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा भी काफी बराबर बनी रहती है और ये किडनी से जुड़ी समस्याओं से भी निजात दिलाता है। कुल मिलाकर हम कह सकते हैं कि एक काबुली चने के खाने से आपको एक साथ कई सारे लाभ मिल सकते हैं। बता दें कि किडनी से जुड़ी समस्या होने पर काबुली चने को पीसकर इसके आटे की रोटियां खाना काफी फायदेमंद साबित होती है। काबुली चने का सेवन आपके ब्लड प्रेससर को भी कंट्रोल करता है और खून में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को भी घटाता है। इसके अलावा आपको बता दें कि काबुली चने में मौजूद फ़ीटोन्यूट्रीटीएंट्स, प्रोटीन और विटामिन्स की मात्रा आपके पाचन शक्तियों को भी दुरुस्त करता है और कब्ज, गैस और एसिडिटी की समस्या से भी राहत दिलाता है। तो अब काबुली चने खाने में संकोच ना करें।

Loading...
Loading...
error: Content is protected !!