Breaking News

यह बकरा रोजाना खाता है काजू-बादाम, रोज खर्च होता है 500 रुपए, 50 लाख रुपए तक लग चुका है कीमत

महंगाई के दौर भले ही आम इंसान के रोजाना के खाने पर 500 रुपए खर्च नहीं हो पाते होंगे, मगर इस मामले में राजस्थान के अलवर में एक बकरे की कहानी ही काफी ज्यादा जुदा है। यह बकरा डाइट में रोजाना काजू, बादाम, दूध और चना लेता है। मालिक को इस पर करीब पांच सौ रुपए खर्च करने पड़ते हैं।

दरअसल, यह बकरा राजस्थान के अलवर जिले के ककराली गांव में बुद्धु खां के घर पर रहता है। 55 साल के बुद्धु खां इस मोहम्मद नाम के बकरे को अल्लाह की नेमत भी मानते हैं, क्योंकि बकरे के शरीर पर अल्लाह और मोहम्मद जैसे शब्दों का भी आभास कराने वाली लकीरें हैं। बुद्धु खां और उनकी पत्नी फज्जो बकरे मोहम्मद का अपने बच्चों की तरह ही ख्याल रहती हैं। खुद भले ही दाल-रोटी खाकर गुजारा चला लेते हैं, मगर बकरे को मेवे खिलाना कभी भी नहीं भूलते हैं। इस अनूठे बकरे की कीमत हजारों में नहीं बल्कि लाखों में लगाई जा रही है।
अल्लाह की मेहरबानी लगता है ये बकरा

पूरे अलवर जिले में मोहम्मद नाम का ये बकरा अपनी नस्ल और कद-काठी के आधार पर ही नहीं बल्कि अपनी डाइट और इसके पेट पर दिखाई देने वाली लकीरों की वजह से आज ये पूरे अलवर में चर्चा का विषय है। बुद्धू खां की मानें तो यहां पर लोग इस बकरे को 50 लाख रुपए तक में खरीदने को भी तैयार हैं, मगर वे बेचना ही नहीं चाहते हैं। यह बकरा उन्हें खुद पर अल्लाह की मेहरबानी लगता है।

Loading...
अलवर ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र के गांव ककराली के इस खास बकरे को देखने के लिए कई इमाम भी बुद्धू खां के घर आ चुके हैं। बुद्धु खां के भतीजे कुरसेद का कहना है कि मोहम्मद की उम्र सवा दो साल है। इस बकरे को करीब 2 वर्ष पहले दो माह का खरीदा था।
Loading...
Loading...
error: Content is protected !!