Breaking News

पति के शराब पीकर बेहोश होते ही साढू ने खोल दिया पत्नी का नाडा, और फिर मचा…..

रांची। झारखंड के गढ़वा जिले में पुलिस ने एक सप्ताह पहले हुई हत्या का खुलासा कर दिया है. धुरकी थाना प्रभारी योगेंद्र कुमार ने थाना क्षेत्र के भंडार पंचायत अंतर्गत लिखनी धौरा कदवा गांव के बलकू कोरवा की हत्या के मामले पत्नी और साढ़ू को गिरफ्तार किया है. संबंधित मामले में थाना प्रभारी के अलावा एएसाई मनोज सिंह, आलोक कुमार और राजदेव सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि बीते 2 अगस्त को लिखनी धौरा कदवा गांव में एक अधेड़ (बलकू कोरवा) का शव गांव के ही तालाब में मिला था. तब ग्रामीणों से इसकी सूचना मिलने पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को तालाब से बाहर निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था

.
इस संबंध में मृतक की पत्नी देवंती देवी ने पूछताछ में पुलिस को बताया था कि उसका पति काफी शराब पीता था. इसी कारण उनकी मौत तालाब में डूबने के कारण हो गई. थाना प्रभारी ने बताया कि महिला के इस बयान पर पुलिस को शक हो गया था. इसके बाद जब मामले की जांच की गई तो मामला कुछ और ही निकला. इधर, थाना प्रभारी ने बताया कि बलकू कोरवा (मृतक) की मौत तालाब में डूबने से नहीं बल्कि उसकी हत्या की गई है.

उन्होंने बताया कि बलकू कोरवा की पत्नी देवंती देवी ने अपनी छोटी बहन के पति इंद्रदेव कोरवा के साथ मिलकर उसकी हत्या कर दी थी. दरअसल, बलकू कोरवा (मृतक) ने इन दोनों को अवैध संबंध बनाते हुए देख लिया था. इसी कारण पत्नी और उसकी छोटी बहन के पति ने पत्थर से कूचकर बलकू की हत्या कर दी थी. इसके बाद शव को तालाब में फेंक दिया था, ताकि किसो को पता न चले.

Loading...

मामले में थाना प्रभारी ने बताया कि दोनों अभियुक्तों ने पूछताछ में बताया कि बीते 31 जुलाई की रात 11 बजे घटना को दोनों आरोपियों ने मिलकर अंजाम दिया था. घटना से पहले बलकू, उसकी पत्नी देवंती और इंद्रदेव एक साथ बैठकर शराब पी थी. इसके बाद घर जाने के दौरान बलकू ने ज्यादा मात्रा में शराब पी ली. इस कारण वो ठीक से खड़ा भी नहीं हो पा रहा था. इसके बाद वह पेड़ के नीचे लेट गया. तभी बलकू की पत्नी देवंती और इंद्रदेव शारीरिक संबंध बनाने लगे.

थोड़ी देर बाद बलकू ने यह सब देख लिया और दोनों के खिलाफ पंचायती बैठाने की बात कहने लगा. इसपर उसकी पत्नी ने इंद्रदेव (आरोपी साढ़ू) से कहा कि अगर इसने घरवालों को सब बता दिया तो वह किसी को मुंह दिखाने लायक नहीं रहेगी. इसी डर के चलते देवंती ने इंद्रदेव के साथ मिलकर उसे पत्थर से कूचकर अधमरा कर दिया. इसके बाद गमछे से गला दबाकर हत्या कर दी. थाना प्रभारी ने बताया कि दोनों के बीच पिछले दो साल से अवैध संबंध था. पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त पत्थर और गमछे को बरामद कर लिया है. साथ ही दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

Loading...
Loading...
error: Content is protected !!