Breaking News

सेक्स को लेकर महिलाओं के दिमाग में घर बना लेते हैं इस तरह के 4 डर, दूसरा है सबसे खतरनाक

सेक्स सिर्फ सुकून, रोमांच और आनंद ही नहीं देता बल्कि अपने साथ कुछ डर भी रखता है। कई पुरुष और महिलाओं के अंदर सेक्स को लेकर तरह-तरह के डर होते हैं। खासकर महिलाओं के अंदर तो सेक्स को लेकर कुछ ज्यादा ही डर होता है। यही वजह है कि यौन संबंधों के दौरान भी उनके दिमाग में कई तरह के सवाल और बातें चलती रहती हैं। आइए जानते हैं कि सेक्स को लेकर महिलाओं के अंदर क्या डर होता है।

1. कई महिलाएं नेकेड होकर यौन संबंध बनाने से कतराती हैं। पार्टनर द्वारा नेकेड सेक्स की इच्छा जाहिर करने के बाद भी वे हिचकती हैं। उनके मन में डर होता है कि अगर उनके पार्टनर को उनकी बॉडी अट्रैक्टिव नहीं लगी तो क्या होगा?

2. कुछ महिलाएं एक सीमित वक्त तक प्रेग्नेंसी नहीं चाहतीं। लेकिन कहीं सच में प्रेग्नेंसी न हो जाए इसलिए वे सेक्स से कतराती हैं। और जब मन में प्रेग्नेंट होने का डर बैठ जाएगा तो फिर वे सेक्स को इंजॉय नहीं कर पाएंगी। लेकिन कॉन्डम से आप इस डर को दूर भगा सकती हैं।

Loading...

3. मेल पार्टनर को सेक्स के दौरान एक्सपेरिमेंट और रोमांच पसंद हो तो फीमेल पार्टनर यही सोचकर घबरा जाता है कि कहीं उसके पार्टनर ने कुछ नया ट्राई किया और उसे वह पसंद नहीं आया या दर्द हुआ तो क्या होगा? कहीं मना कर दिया तो वह नाराज तो नहीं हो जाएगा? इसी वजह से महिला पार्टनर के अंदर डर और असुरक्षा की भावना पैदा हो जाती है।

4. कई महिलाएं इस बात को लेकर डर जाती हैं कि सेक्स के दौरान उनके पार्टनर ने अगर कॉन्डम नहीं पहना तो क्या होगा। और वह उसे कैसे कह पाएंगी? कहीं इस वजह से उन्हें किसी तरह का इंफेक्शन या बीमारी तो नहीं हो जाएगी।

Loading...
Loading...
error: Content is protected !!