Ajab-gajabInternational

यहाँ पर बेटी मानती है अपने पिता को ही पति…..

939 Views

समाज में चारों ओर गुंडा-गर्दी, दहशत का माहौल है। बलात्कार व हिंसा की घटनाएँ बढ़ रही हैं। गुंडे दफ्तर में, सड़क पर यहाँ तक की मंदिर में भी छिछोरी हरकत करने से बाज नहीं आते हैं। लेकिन जब बाप ही बेटी का प्रेमी तो इस यह एक विकट समस्या है। भारतीय संस्कृति में पिता और पति दोनों बिलकुल उलटे रिश्ते हैं और सबसे अहम भी। परिवार में रिश्तों की अहमियत भारतीय संस्कृति में सर्वोच्च मानी जाती है।

1. एशिया में एक ऐसी भी जगह है जहां एक पिता अपनी ही बेटी से शादी करता है। यहां बचपन से ही लड़कियां अपने पिता को पति के रूप में देखने लगती हैं। वॉऊस्टफ की रिपोर्ट के अनुसार बांग्लादेश की आदिवासी जाति मंडी में यह अजीबो-गरीब काम किया जाता है। इसमें बेटी की मां की सहमति रहती है।

२. यह हमारे पड़ोसी देश की एक परम्परा है। यह आदिवासी जाति बांग्लादेश के दक्षिण पूर्व के माधोपुर जंगल में रहती है। बांग्लादेश के आदिवासी लोगों में कई ऐसे मामले सामने आए हैं जहां लड़कियां अपने पिता को ही अपना पति बना लेती हैं। लड़कियां अपने पिता के बच्चों को भी जन्म देती हैं।

3. यहां मंडी वुमन यूनिटी की प्रमुख का कहना है कि उन्हें अपने लिए बहुत से व्यवस्‍थाएं करनी होती हैं, जिसमें बेटियों की शादी भी शामिल है। जाति में शादी की परम्पराएं खत्म हो रही हैं। लड़कियां अब शादी का विरोध करने लगी हैं और अपने जीवन-यापन के लिए ढाका की ओर रूख कर चुकी है और बेहतर जिंदगी जीने की कोशिश कर रही हैं।

गुंडातत्व से तो जैसे-तैसे निपटा जा सकता है लेकिन वासना के पुजारी पुरुष सगे संबंधियों से कैसे निपटे बेचारी नारी। घरेलू-यौन शौषण के अधिकांश मामले लज्जावश दबा दिए जाते हैं। नारी घर की चारदिवारी में भी सुरक्षित नहीं है।

Related Articles

error: Content is protected !!
Close