Breaking News

यहाँ पर मिलती हैं किराये पर पत्नी…

भारत के लगभग हर राज्य में कई संस्कृतियाँ और परम्पराएँ देखने को मिलती हैं। यहाँ लोग भाषा, बोली, जाति, धर्म, समुदाय, क्षेत्र के हिसाब से बँटे हुए हैं। एक ही देश में इतने ज़्यादा स्तर पर बँटवारा सिर्फ़ भारत में ही हुआ है।

भारत को सदियों से परम्परा और संस्कृति के देश के रूप में जाना जाता रहा है। यहाँ की संस्कृति और परम्पराएँ विदेशियों के लिए हमेशा से आकर्षण का केंद्र रही है। कई बार दूसरे देश से लोग यहाँ की संस्कृति और परम्परा को देखने के लिए आते हैं और यहीं के होकर रह जाते हैं। उन्हें यहाँ की संस्कृति और परम्परा इतनी अच्छी लगती है कि उनका यहाँ से जानें का मन ही नहीं करता है। भारत में कई अच्छी चीज़ें हैं तो कई ऐसी भी चीज़ें हैं जो बहुत बुरी हैं।

कई बार यहाँ परम्परा के नाम पर कुछ ऐसा होता है, जिसके बारे में आप सपने में भी नहीं सोच सकते हैं। यह तो आप जानते ही हैं कि भारत में महिलाओं को देवी का दर्जा दिया गया है। हालाँकि यहाँ उसी देवी के साथ समय-समय पर शोषण होते रहे हैं। आज भी भारत के कुछ ग्रामीण इलाक़ों में महिलाओं की स्थिति ज़्यादा अच्छी नहीं है। यहाँ आज भी महिलाओं के साथ परम्परा के नाम पर कुछ ऐसा किया जाता है, जिसके बारे में जानकर आपका माथा ठनक जाएगा। यक़ीन नहीं होता है तो आपको आज हम एक ऐसी ही परम्परा के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसे सुनकर आपके होश उड़ जाएँगे।

परिवार के लोग ही बेचते हैं महिलाओं को: दरअसल आज हम आपको जिस परम्परा के बारे में बताने जा रहे हैं, वह मध्यप्रदेश में स्थित शिवपुरी इलाक़े की है। इस प्राचीन परम्परा को ‘धड़ीचा प्रथा’ के नाम से जाना जाता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें इस जगह पर हर साल एक मंडी लगती है और इस मंडी में कुछ और नहीं बल्कि महिलाओं को बेचा जाता है। जी हाँ महिलाओं को बेचा जाता है। इस मंडी में महिलाओं को बेचने वाला कोई और नहीं बल्कि उनके परिवार के लोग ही होते हैं। यहाँ लड़की का सौदा एक साल के लिए किया जाता है।