Breaking News

इस कांग्रेसी में MLA के बागी बोल, कहा- गुंडों को संरक्षण देकर और दंगे फसाद करवाकर 5 साल के लिए गायब हो जाती है प्रियंका गाँधी

कॉन्ग्रेस महासचिव पूर्वी उत्‍तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गाँधी वाड्रा पर उनके ही पार्टी के विधायक का गुस्सा फूट पड़ा है। प्रियंका गाँधी वाड्रा पर कॉन्ग्रेस विधायक राकेश सिंह ने आरोप लगाते हुए कहा कि वह यहाँ आती हैं और लोगों को लड़वाकर दिल्ली चली जाती हैं, इसके बाद पाँच साल तक यहाँ के लोग आपस में लड़ते रहते हैं।

अपराधियों को संरक्षण देती है प्रियंका गाँधी’

राकेश सिंह ने आगे कहा कि मनी लॉन्ड्रिंग मामले में रोजाना ED ऑफिस के चक्कर काट रहे रॉबर्ट वाड्रा की पत्नी प्रियंका गाँधी बहुत दिन से अपराधियों को संरक्षण दे रही हैं। रायबरेली के हरचंदपुर विधानसभा क्षेत्र से कॉन्ग्रेस विधायक ने दावा किया कि उनके पास इसकी जानकारी भी है। प्रियंका गाँधी द्वारा ही यह साजिश रची जा रही है, जिसका परिणाम आने वाले समय में और खराब होगा। बता दें कि हरचंदपुर विधानसभा सीट सोनिया गाँधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली के अंतर्गत आती है।

MLA राकेश सिंह ने अपने दोनों भाई दिनेश सिंह और अवधेश सिंह का बचाव करते हुए कहा, “मेरे भाई पर प्रियंका गाँधी वाड्रा गलत आरोप लगा रही हैं। प्रियंका गाँधी को लगता है कि यहाँ पर दबाव बनाकर काम करेंगी।” दरअसल, लोकसभा चुनाव में दिनेश सिंह बीजेपी की तरफ से रायबरेली में सोनिया गाँधी को चुनौती दे रहे हैं। कभी कॉन्ग्रेस में सोनिया-प्रियंका के खास रहे दिनेश सिंह के खिलाफ आज पूरी पार्टी हमलावर है।

Loading...

प्रियंका गाँधी एक घंटे के लिए आएँगी, लोगों को लड़वा के 5 साल के लिए चली जाएँगी

मंगलवार को हुई हिंसा में घायल जिला पंचायत सदस्यों और कॉन्ग्रेस MLA अदिति सिंह से मिलने प्रियंका गाँधी आज रायबरेली पहुँची थी। लेकिन इस दौरान उनकी ही पार्टी के हरचंदपुर से विधायक राकेश सिंह ने उन पर गंभीर आरोप लगाए हैं। राकेश सिंह ने कहा, “प्रियंका गाँधी बहुत दिनों से अपराधियों को संरक्षण दे रही हैं। वह इसी तरह चुनाव में एक घंटे के लिए आएँगी और फिर जिले के लोगों को लड़वा के पाँच साल के लिए चली जाएँगी। मैं विधिक रूप से कॉन्ग्रेस का विधायक हूँ, लेकिन अगर वे (प्रियंका) मेरे भाइयों पर बाहर से गुंडा बुलवाकर हमला कराना चाहे या फिर कार्रवाई कराएँ तो ये भी गलत है।”

इस दौरान MLA राकेश सिंह ने कहा कि पार्टी और पद अस्थाई होता है, लेकिन भाई स्थाई होता है। ऐसे में अगर भाई के साथ गलत कार्रवाई होगी, तो वो भाई के साथ ही खड़े रहेंगे।

Loading...
error: Content is protected !!
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/