Breaking News

पीएम मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ रहे है इस बाहुबली ने छोड़ा मैदान, बाहुबली का नाम जानकर नही होगा यकीन

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ लोकसभा चुनाव में निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नामांकन करने वाले पूर्व सांसद और बाहुबली अतीक अहमद ने मैदान छोड़ने का एलान किया है। मीडिया को जारी पत्र में अतीक ने पेरोल न मिलने को चुनाव मैदान से हटने का कारण बताया है। अतीक अहमद ने यह भी कहा है कि वह किसी भी प्रत्याशी का समर्थन नहीं करेंगे। अतीक अहमद ने निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर नामांकन करने के बाद चुनाव प्रचार करने के लिए पैरोल की अर्जी दी थी।
पिछले दिनों एमपी, एमएलए कोर्ट औ उसके बाद हाई कोर्ट ने उनकी अपील खारिज कर दी थी। अतीक के चुनाव एजेंट ऐडवोकेट शहनवाज आलम ने रविवार को अतीक का नैनी जेल से लिखा पत्र मीडिया को जारी किया। इसमें चुनाव मैदान से हटने की बात लिखी है। पत्र में लिखा है, भारत में लोकतंत्र की जड़ें बहुत मजबूत हैं लेकिन ऐसी विचारधारा के लोग भी मौजूद हैं, जो लोकतंत्र को समाप्त कर हिटलरशाही लाना चाहते हैं। पत्र में मतदाताओं से सांप्रदायिक ताकतों को परास्त करने की अपील की गई है।
उधर, नामांकन प्रक्रिया पूरी होने के कारण बैलेट यूनिट में अतीक अहमद का नाम और चुनाव चिन्ह अंकित रहेगा।  शहनवाज ने बताया कि उनकी ओर से किसी तरह का पास और अनुमति नहीं ली जाएगी। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ तेलंगाना के 25 किसान समेत 101 लोगों ने नामांकन किया था। जिसमें बीएसएफ से बर्खास्त जवान तेज बहादुर यादव भी शामिल थे, लेकिन उनका नामांकन रद्द हो गया। स्क्रूटनी के बाद अब 25 प्रत्याशी मैदान में हैं। वाराणसी लोकसभा सीट पर 19 मई को लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण में मतदान होगा।
Loading...
Loading...
error: Content is protected !!