Breaking News

चिलचिलाती धूप में प्रियंका ने रोड शो कर किया शक्ति प्रदर्शन

फतेहपुर। लोकसभा चुनाव के जरिये कांग्रेस की उत्तर प्रदेश इकाई में प्राण फूंकने के इरादे से निकली पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने शनिवार को चिलचिलाती धूप के बीच फतेहपुर में रोड शो कर अपनी ताकत का अहसास कराया। अपने एक दिवसीय संक्षिप्त दौरे में  वाड्रा ने कांग्रेस प्रत्याशी राकेश सचान के पक्ष में आयोजित नुक्कड़ सभा को सम्बोधित किया। महिलाओं के दुख-दर्द को साझा किया और रोड शो के जरिये जनसम्पर्क कर कांग्रेस प्रत्याशी को भारी मतों से विजयी बनाने की अपील की। प्रियंका गांधी वाड्रा मध्यान्ह कानपुर के चकेरी हवाईअड्डा पहुंचीं जहां कानपुर और अकबरपुर के कांग्रेस प्रत्याशियों समेत बडी संख्या में नेताओं और कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया।
कानपुर में चुनाव तैयारियों की समीक्षा करने के बाद  वाड्रा फतेहपुर से कांग्रेस प्रत्याशी राकेश सचान और कानपुर के श्रीप्रकाश जायसवाल के साथ सड़क मार्ग से फतेहपुर रवाना हो गयी। इस बीच उन्होने औंग के एक गेस्ट हाउस में महिलाओं के साथ बातचीत की वहीं देवमई चौराहा होते हुए जहानाबाद में आयोजित नुक्कड़ सभा को सम्बोधित किया। इस बीच उनका बकेवर और खजुआ में स्वागत किया गया। कांग्रेस नेत्री ने बिन्दकी में नुक्कड़ सभा को सम्बोधित किया। उन्होने कहा ‘‘ रास्ते में मुझे 52 इमली नामक ऐतिहासिक स्थल मिला जिसके बारे में बताया गया कि 1857 की क्रान्ति में यहां 52 लोगों ने शहादत दी थी, उन्होने शहादत क्यों दी थी। उनकी शहादत से लोगों के अन्दर यह भावना आयी कि देश स्वतंत्र होना चाहिए, इसके लिए बाद में स्वतंत्रता आन्दोलन चला। इस शहादत का मतलब है कि हिन्दुस्तान में जनता का राज हो। लोकतंत्र का यही मतलब है कि सरकार आपकी हो। लोकतंत्र को मजबूत करने की बात कांग्रेस ने सदैव की, लेकिन कुछ लोग लोकतंत्र को लगातार कमजोर कर रहे हैं। वाड्रा ने कहा कि जनप्रतिनिधियों को गरीबों से मिलना चाहिए लेकिन प्रधानमंत्री मोदी गरीबों से नहीं मिलते। रास्ते भर जनता का अभिवादन स्वीकार करते हुए ज्वालागंज होते हुए लाला बाजार पहुंचकर रोड शो का समापन किया गया।