Breaking News

बिना पति के अपना जीवन व्यतीत कर रही हैं यहां की लड़कियां, ऐसे बन रही हैं मां

इस गांव में सिर्फ महिलाएं ही रहती हैं। वहां वो अपने बच्चे के साथ और अपने अलग ज़िन्दगी जीती हैं। सीधा कहें तो यहां पर पुरुष नहीं आ सकते। इसका एक ठोस कारण है जिसके बारे में हम बताने जा रहे हैं। यहां रहने वाली महिलाएं न सिर्फ गर्भवती होती है, बल्कि बच्चों को जन्म देकर उनका पालन-पोषण भी करती हैं वो भी बिना किसी पुरुष के।
बिना पुरुषों के जीवन बिता रही है महिलाएं :
कांटों की फेंसिंग से घिरे केन्या के समबुरू का उमोजा गांव में मर्दों की एंट्री बैन है। पिछले 27 साल से यहां सिर्फ महिलाएं रहती आ रही हैं। 1990 में इस गांव को 15 ऐसी महिलाओं के रहने के लिए चुना गया, जिनके साथ ब्रिटिश जवानों ने रेप किया था। इसके बाद ये गांव पुरुषों की हिंसा का शिकार हुई महिलाओं का ठिकाना बन गया।
महिलाएं करती है ये काम :
इस गांव में इस वक्त करीब 250 महिलाएं और बच्चे रह रहे हैं। गांव में महिलाएं प्राइमरी स्कूल, कल्चरल सेंटर और सामबुरू नेशनल पार्क देखने आने वाले टूरिस्ट्स के लिए कैंपेन साइट चला रही हैं। इस गांव की अपनी वेबसाइट भी है। यहां रहने वाली महिलाएं गांव के फायदे के लिए पारंपरिक ज्वैलरी भी बनाकर बेचती हैं।
Loading...
Loading...
error: Content is protected !!