Breaking NewsEntertainmentNationalPolitics

कांग्रेस से इस सीट से चुनाव लड़ सकती है करीना कपूर, कांग्रेस नेता के इस बयान से आया सियासी भूचाल

354 Views

भोपाल। मध्य प्रदेश में कांग्रेस पार्टी ने कांटे की लड़ाई में भाजपा को मात देदी.रोमांचक चुनाव परिणामो के बीच भाजपा की पंद्रह साल से मजबूत दुर्ग को कांग्रेस गिराने में सफल हो गयी लेकिन कमलनाथ के नेतृत्व में कांग्रेस की सत्ता के बाद अगली लड़ाई लोक्स्बाहा चुनाव की है.कांग्रेस इस समय लोकसभा चुनावों के लिए मजबूत उम्मीदवारों की तलाश कर रही है.

कांग्रेस के एक बड़े नेता ने इशारा किया है कि भाजपा को हराने के लिए करीना कपूर को उम्मीदवार बनाया जाए.दरअसल मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में कांग्रेस से नया प्रत्याशी उतारने की मांग उठ रही है.कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने वरिष्ठ नेताओं को राय दी है कि भोपाल की बहू और पटौदी परिवार की सदस्य अभिनेत्री करीना कपूर को उम्मीदवार बनाया जाए.

Loading...

दरअसल भाजपा की गढ़ बन चुकी भोपाल लोकसभा सीट के लिए कांग्रेस कार्यकर्ता ऐसे उम्मीदवार को प्रत्याशी बनवाना चाहते हैं जो जानी-पहचानी हस्ती हो.वार्ड 46 से पार्षद गुड्डू चौहान,पार्षद मंजीत मारन व कांग्रेस नेता अनीस खान का कहना है कि अगर पार्टी फिल्म अभिनेत्री करीना कपूर को भोपाल लोकसीट से उतारती है,तो यहां भाजपा का अभेद किला ढह सकता है.यह मांग कांग्रेस संगठन के पदाधिकारियों से की गई है.भोपाल लोकसभा सीट से नवाब पटौदी भी अपनी किस्मत अजमा चुके हैं.

Loading...

हालांकि उन्हें हार का सामना करना पड़ा था.अगर करीना कपूर को उम्मीदवार बनाया जाता है तो यह पटौदी परिवार से दूसरी सदस्य होंगी,जो चुनाव मैदान में दिखाई देंगी,करीना का जादू युवाओं के बीच सिर चढ़कर बोलता है,ऐसे में कांग्रेस को भोपाल के अलावा आस-पास की लोकसभा सीट पर लाभ मिल सकता है.

बता दें शहर से पटौदी परिवार का काफी पुराना नाता है.पटौदी परिवार के सदस्यगण सुप्रसिद्ध फिल्म अभिनेत्री शर्मिला टेगौर,सैफ अली खान,सोहा अली खान का यहां से खासा लगाव भी रहा है,सैफ की पत्नी होने के कारण करीना को भोपाल की बहू कहा जाता है.कांग्रेस नेता की इस बयानबाज़ी पर अभी करीना कपूर एवं उनके पति सैफ अली खान ने कोई प्रतिक्रिया नही दी है.

गौरतलब है कि भोपाल लोकसभा सीट पर भाजपा लगातार आठ बार से चुनाव जीत रही है.भोपाल में पिछला चुनाव भाजपा उम्मीदवार अलोक संजर ने पौने चार लाख मतों से जीता था लेकिन 2009 में कांग्रेस ने भाजपा को कड़ी टक्कर दी थी,राजनैतिक विश्लेषको एक अनुसार भोपाल में कांग्रेस किसी बड़े चेहरे को उतार कर ही जीत सकता है अन्यथा आज भी भोपाल भाजपा का मजबूत दुर्ग है.

Loading...

Related Articles

error: Content is protected !!
Close