NationalPoliticsuttar pradesh

सपा-बसपा गठबंधन से चाचा को हो सकता है नुकसान- अपर्णा यादव

365 Views

मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव राजनीति में काफी ज्यादा दिलचस्पी रखती हैं और यही वजह है कि वो अपनी राय रखने से कभी पीछे नहीं हटती हैं। एक टीवी चैनल से बात करते हुए अपर्णा ने सपा-बसपा गठबंधन के बारे में बहुत कुछ कहा है. उन्होंने कहा कि, सपा-बसपा गठबंधन को लेकर काफी समय पहले से कयास लगाए जा रहे थे और अब सबकुछ साफ हो चुका है। तो ऐसे में अखिलेश यादव और मायावती दोनों ही नेता बधाई के पात्र हैं। हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि, दोनों नेताओं को पार्टी के कार्यकर्ताओं को एकजुट करने में काफी मशक्कत करनी होगी।

अपर्णा यादव ने कहा कि, सपा-बसपा गठबंधन हो जाने के बाद दोनों ही पार्टियों के कार्यकर्ताओं के बीच झड़प की खबरें सामने आई थी जिसके बाद अखिलेश यादव ने खुद कार्यकर्ताओं से कहा था कि, पहले मायावती का नाम आएगा फिर उनका नाम लिया जाएगा। तो ऐसे में ये एक चुनौती होगी कि किस प्रकार दोनों नेता कार्यकर्ताओं को एकजुट करते हैं। उन्होंने ये भी कहा कि, लोकसभा चुनाव के देखते हुए मैं चाहती हूं कि दोनों ही दल मजबूती से चुनाव लड़े जिससे 2019 चुनाव में एक अच्छा मुकाम हासिल किया जाए।

जब अपर्णा यादव से चाचा शिवपाल यादव की पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी(लोहिया) के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि, जब चाचाजी समाजवादी पार्टी में थे तो पार्टी के एक बड़े नेता और साथ ही एक बड़ा चेहरा था। लेकिन कुछ परिस्थितियां ऐसी बनी की उनको मजबूरी में एक अलग पार्टी बनानी पड़ी। लोकसभा चुनाव में वो निश्चित रूप से गठबंधन के कुछ वोट काटेंगे क्योंकि लोगों में उनकी पकड़ काफी ज्यादा अच्छी है।

Related Articles

error: Content is protected !!
Close