Breaking News

बुलंदशहर हिंसा: आजम ने कहा – अखलाक मर्डर केस से है मृतक इंस्पेक्टर सुबोध का कनेक्‍शन

24 Views
समाजवादी पार्टी के नेता अज़ाम खान ने बुलंदशहर में हुई हिंसा को लेकर कई सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने कहा ‘अगर एसआईटी जांच करेगी तो उसे पता लगाना चाहिए कि आखिर इस गोश्त को यहां लाया कौन था? क्योंकि यहां दूर-दूर तक खास समुदाय की आबादी नहीं है। ‘

उन्होंने आगे कहा ‘ऐसा कहा जा रहा है कि मृतक इंस्पेक्टर अखलाक मर्डर केस में आईओ थे। इसलिए अब एसआईटी की जिम्मेदारी और बढ़ जाती है।  एसआईटी की जिम्मेदारी का जो वीडियो वायरल हुआ है जो जुमले इस्तेमाल हुए हैं और जिन्होंने आईओ और इंस्पेक्टर की शिनाख्त की है उनसे पूछताछ होनी चाहिए। 

Azam Khan,Samajwadi Party: If it is indeed cattle carcass then Police should also probe as to who brought the carcass there, as there is no minority population in that particular area.


17 people are talking about this

इसके साथ ही आज़म खान ने एसआईटी पर भी सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने कहा ‘एसआईटी जो पुलिस ऑफिसर सीबीआई में भी होते हैं। इस जांच एजेंसी का हश्र किसी से छिपा नहीं है। ये कैसे दें कि एसआईटी की जांच निष्पक्ष होगी। जब सीबीआई ही निष्पक्ष नहीं है तो क्या ख सकते हैं। 
बता दें कि उत्तर प्रदेश के मेरठ मंडल से जुड़े बुलंदशहर जनपद में सोमवार को कथित तौर पर गोकशी के बाद मचे बवाल में गुस्साई भीड़ ने स्याना थाने के इंस्पेक्टर की पत्थर या किसी भारी वस्तु मार कर हत्या कर दी। वहीं गोली लगने से एक युवक की मौत हुई है। सीएम योगी आदित्य नाथ ने इस मामले पर जांच के आदेश दे दिए हैं।

Prashant Kumar, ADG Meerut Zone: 2 people have been taken to custody. An SIT has been formed to investigate why the violence happened and why the police personnel left Inspector Subodh Kumar alone.


24 people are talking about this



प्रदेश सरकार ने इस मामले की जांच एडीजी इंटेलीजेंस को सौंपी है जो 48 घंटे के अंदर रिपोर्ट देंगे इसके साथ ही मेरठ रेंज के महानिरीक्षक की अध्यक्षता में एक एसआईटी का भी गठन किया है। मेरठ जोन के एडीजी प्रशांत कुमार ने बताया कि मंगलवार को 2 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इसके साथ ही 400 अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया गया है। 
Tags

Related Articles

error: Content is protected !!
Close