Breaking News

गोकशी को लेकर ग्रामीणों ने मचाया उपद्रव, इंस्पेक्टर स्याना हुए शहीद

17 Views
लाइव समाचार -लखनऊ। बुलंदशहर के स्याना कोतवाली क्षेत्र में गोकशी को लेकर ग्रामीणों ने जमकर उपद्रव किया। सैकड़ों की तादात में उपद्रवियों ने पुलिस चौकी और दर्जनों वाहनों फूंक दिये। जमकर पथराव और फायरिंग भी की, जिसमें इंस्पेक्टर स्याना सुबोध कुमार सिंह शहीद हो गये। पुलिस द्वारा की गयी क्रास फायरिंग में ग्रामीणों में से एक अन्य युवक की मौत हो गयी। 
उपद्रव में आधा दर्जन पुलिसकर्मी और एक दर्जन ग्रामीण घायल हुए हैं। घायलों में शहीद इंस्पेक्टर का हमराही भी शामिल है, जिसे गोली लगी है। इस घटना के बाद पूरे जिले में अराजकता का माहौल है। सरकार ने इस पूरे घटनाक्रम की जांच के लिये आईजी रेंज मेरठ की अध्यक्षता में एसआईटी गठित की है। सरकार ने एडीजी इंटेलीजेंस को बुलंदशहर भेजा हैं, उन्हें 48 घण्टे के भीतर जांच रिपोर्ट शासन को रिपोर्ट देने के निर्देश दिये गये हैं।
एडीजी कानून एवं व्यवस्था आनंद कुमार ने बताया कि बुलंदशहर में हुए बवाल को लेकर मेरठ रेंज के आईजी के नेतृत्व में चार सदस्यीय एसआईटी का गठन किया गया है। ये टीम स्याना में हुई गौकसी और उसके बाद हुए उपद्रव की जांच करेगी। आनंद कुमार ने बताया कि एडीजी इंटेलीजेंस को बुलंशहर भेजा गया है। उन्हें पूरे घटनाक्रम की 48 घण्टे में शासन को रिपोर्ट देने के निर्देश दिये गये हैं। उधर, प्रमुख सचिव गृह अरविन्द कुमार ने बताया कि बुलंदशहर में स्थिति नियंत्रण में है और आस-पास जिलों से पुलिस बल वहां भेजा गया है। अलीगढ़ से आरएएफ और पीएसी भेजी गयी है। अरविन्द कुमार ने डीएम और एसपी से बात कर उपद्रवियों के विरूद्ध सख्त कारज़्वाई करने के निर्देश दिये हैं।
बुलंदशहर की स्याना कोतवाली क्षेत्र में चिगरवाठी चौकी के महाव इलाके में गोकशी को घटना को लेकर सुबह से हिंदू संगठनों और ग्रामीणों में रोष था। गोवंशों के अवशेष को ट्रैक्टर-ट्राली में भरकर बजरंग दल और हिन्दु युवा वाहिनों के कार्यकर्ताओ ने चिंगरवाठी चौकी के सामने स्टेट हाईवे पर जाम लगाकर हंगामा करना शुरू कर दिया। साथ ही कोतवाल पर अभद्रता का आरोप लगाते हुए जमकर प्रदर्शन किया। पुलिस के हल्का बल प्रयोग करने पर लोग भड़क गए और पथराव कर दिया। इस पर पुलिस ने लाठी चार्ज किया तो प्रदर्शनकारी और उग्र हो गये। उन लोगों ने पुलिस चौकी पर हमला बोलकर आगजनी शुरू कर दी। चौकी पर खड़े दर्जनों वाहनों को फूँक दिया और तोडफ़ोड़ की।
घटना की सूचना मिलते ही जिले के कई थानों का फोर्स और अन्य अधिकारी मौके पर पहुंच गये। पुलिस जब ग्रामीणों पर कुछ हावी हुई तो उन लोगों ने फायरिंग शुरू कर दी। इस बीच इंस्पेक्टर स्याना सुबोध कुमार सिंह की जीप को घेर लिया और उस पर जमकर पथराव किया। उपद्रवियों से घिरा देख जीप पर सवार हमराही इंस्पेक्टर को छोड़कर भाग खड़े हुए। इंस्पेक्टर के सिर पर पत्थर लगे और उसी बीच भीड़ में किसी ने उन पर फायर झोंक दिये। सुबोध वहीं मरणासन्न अवस्था में जीप से नीचे लटक गये।
कोतवाल के मरणासन्न होने की जानकारी मिलते ही पुलिस ने भी क्रास फायरिंग की जिसमें समित नाम के एक युवक के सीने में गोली लगी। उसे इलाज के लिये जिला अस्पताल भेजा गया, वहां से उसे मेरठ मेडिकल कालेज रेफर किया गया। डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। ग्रामीण और पुलिसकर्मियों के बीच शाम तक संघर्ष चला। इसमें आधा दर्जन पुलिसकर्मी और एक दर्जन ग्रामीण घायल हुए। पुलिस अधिकारियों को स्थिति काबू करने के लिये काफी मशक्कत करनी पड़ी। बुलंदशहर एसएसपी केबी सिंह ने बताया कि स्थिति बिल्कुल काबू में है। एहतियात के लिये पुलिस बल तैनात किया गया है। घटना के बाद मेरठ रेंज के आईजी और तजोन के एडीजी मौके परद पहुंचे और उन्होंने घटनास्थल का जायजा लिया।

इंस्पेक्टर की मौत से पुलिस महकमें में शोक

उधर, बवाल में इंस्पेक्टर स्याना सुबोध कुमार के मारे जाने की खबर ने बुलंशहर पुलिस महकमे में शौक की लहर फैल गयी। उनके शव को पोस्टमार्टम के लिये भेजा गया। शहीद इंस्पेक्टर सुबोध कुमार एटा के रहने वाले थे। मेरठ के पल्लवपुरम में भी मृतक इंस्पेक्टर का घर है। 47 वर्षीय सुबोध सिंह गांव तरगवा, थाना जैतरा जिला एटा के रहने वाले थे। मेरठ के मोदीपुरम स्थित मकान को बेचकर कई माह पहले परिवार नोएडा सेक्टर 42 में शि ट हुआ था। उनके दो बेटे हैं। उनकी पत्नी उनके साथ ही रह रही थीं। सुबोध कुमार मेरठ, मुज फरनगर और सहारनपुर में भी तैनात रहे हैं।

मेरठ जोन में हाई एलर्ट जारी

एसएसपी ने बताया कि बवाल को देखते हुए बुलंदशहर में इज्तिमा से लौट रहे हजारों वाहनों को देखते हुए हापुड़ रोड पर फोर्स लगाई गई है। एसपी देहात राजेश कुमार फोर्स के साथ हापुड़ रोड पर तैनात हैं। इसके साथ ही आस-पास जिलों से आयी फोर्स और आरएएफ को तैनात किया गया है। यूपी के बुलंदशहर में गोकशी के बवाल में इंस्पेक्टर की मौत के बाद मेरठ जोन में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। वहीं मेरठ से बड़ी सं या में पुलिस फोर्स को बुलंदशहर रवाना किया गया है।

सौहार्द बिगाडऩे की कोशिश-शिवपाल

बुलंदशहर में हुई घटना की प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने घोर निंदा की है। उन्होंने गोवंश के अवशेष मिलने की अफवाह के बाद हुई हिंसक झड़प की घोर भर्तसना करते हुए कोतवाल सुबोध कुमार सिंह की मौत पर दुख व्यक्त किया है। कहा आज प्रदेश में एक ओर सड़कों पर गोवंश पशु मर रहे हैं, दूसरी ओर गोवंश के नाम पर आपसी ताने बाने को बिगाडऩे की कोशिश भी हो रही है।
Tags

Related Articles

error: Content is protected !!
Close