Breaking News

ईवीएम से भाजपा को बचाये रखने के लिए रतजगा करना पड़े तो कांग्रेसी वो भी करेंगे

2 Views
रायपुर :भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक के बयान पर पलटवार करते हुए प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि भाजपा किसानों को कर्ज मुक्त और खुशी से झूमते हुए नहीं देखना चाहती है।
भाजपा 15 सालों से किसानों के नाम पर योजनायें बनाकर उद्योगपतियों की तिजोरी भरने का काम कर रही थी। कांग्रेस के कर्ज मुक्ति के संकल्प और कांग्रेस की सरकार बनने से किसानों के चेहरे में दिख रही खुशहाली भाजपा को हजम नहीं हो रही है।
प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि भाजपा सरकार में कमीशनखोरी और भ्रष्टाचार के कारण ही फसल बीमा का मुआवजा सही ढंग से किसानों को नहीं मिल पाया।
जिसके कारण हताश, परेशान कर्ज से दबे 14000 किसानों ने आत्महत्या कर लिया। किसानों के खेती के लिए उपलब्ध पानी भी उद्योगपतियो को बेचा गया। छत्तीसगढ़ की जनता ने 15 साल के कमीशन खोर भ्रष्टाचार कुशासन की भाजपा सरकार के खिलाफ मतदान किया है।
मतदान के बाद मिले रुझानों से स्पष्ट हो गया है कि कांग्रेस की सरकार बनेगी और किसानों का कर्जा माफ होगा तो कौशिक जी सहित सभी भाजपा नेताओं के पेट में दर्द शुरू होने लग गया है।
प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि जरूरत पड़ी तो भाजपा से ईवीएम को बचाए रखने कांग्रेस के कार्यकर्ता रतजगा भी करेंगे। जनता ने 15 साल के भाजपा की कुशासन, भ्रष्टाचार सरकार के खिलाफ अपना मत दिया है।
मतदान के बाद मिले रुझानों से भाजपा में उथलपुथल मची हुई है। कालेधन औऱ बाहुबल का उपयोग कर लोकतंत्र के खिलाफ काम करने वाली भाजपा को जनता का समर्थन नहीं मिला। 90 विधानसभा सीटों में भाजपा के प्रत्याशियों की स्थिति खराब है।
भाजपा की सत्ता और संगठन अनैतिक तरीकों का इस्तेमाल कर चौथी बार सत्ता पाने की जुगत में लगी हुई है। कांग्रेस जब भी ईवीएम के विषय में सवाल करती है तो भाजपा में खलबली मचती है ऐसा लगता है कि भाजपा की जीत का रहस्य ईवीएम मशीन में ही है।
प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने पूछा है कि कांग्रेस के द्वारा सभी 90 विधानसभा प्रत्याशियों और जिला ब्लाक कमेटियों को ईवीएम मशीनों से कोई छेड़छाड़ नहीं हो, यह सुनिश्चित करने को कहा गया है ।
Tags

Related Articles

error: Content is protected !!
Close