Breaking News

देवरिया कांड में खुलासा- नकाब बांध ले जाते थे लड़कियां, सुबह रोते हुए लौटती थीं

देवरिया : बिहार के मुजफ्फरपुर में बालिका गृह की बच्चियों से रेप का मामला अभी सुर्खियों में है ही कि देवरिया में ऐसा ही मामला सामने आया है. एक शेल्टर होम से 24 बच्चियों को छुड़ाया गया है और 18 लड़कियां गायब हैं. कुछ बच्चियों ने शेल्टर होम में संदिग्ध गतिविधियों का खुलासा भी किया है. 
एक बच्ची सबसे पहले यहां से भागने में कामयाब रही और उसने बताया- एक दीदी बाहर जाती थी. बड़ी मम्मी ले जाती थी. नहीं जाती थी तो नकाब बांधकर ले जाया जाता. सफेद कार आती, एक बार काली सी आयी थी एक बार लाल आई थी. सुबह आती थी तो रोती थी उनका आंख फूल जाता था, कुछ नहीं बताती थी.
दूसरी बच्ची ने कहा कि जो बड़ी लड़कियां थीं, उनके साथ गलत काम होता था, हम लोगों को भी गोरखपुर ले जाती थीं.
देवरिया के मां विंध्यवासिनी प्रशिक्षण सामाजिक सेवा संस्थान में यौन शोषण के आरोपों के बाद योगी सरकार ने प्रशासन पर कार्रवाई की है. देवरिया के जिलाधिकारी को फौरन सस्पेंड करने का आदेश दे दिया. इसके साथ ही देवरिया के पूर्व प्रोबेशन अफसर अभिषेक पांडे को भी सस्पेंड करने के आदेश दिए. इसके अलावा दो और पूर्व अफसरों पर भी गाज गिरी है.
शेल्टर होम की संचालिका गिरिजा त्रिपाठी और उसके पति मोहन त्रिपाठी की गिरफ्तारी भी हो चुकी है. होम को सील कर दिया गया है. उधर, केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री ने आगाह किया है कि आश्रयगृहों में नाबालिग लड़कियों के शोषण के कई और मामले हो सकते हैं जिनका खुलासा किये जाने की जरूरत है और राज्यों से अनुरोध किया कि गैर सरकारी संगठनों द्वारा बच्चों के ‘उत्पीड़न और गलत इस्तेमाल’ को रोकने के लिये एकल, व्यापक व्यवस्था बनाएं.
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/