Breaking News

तो क्या 10 करोड़ के लिए हुयी मुन्ना की हत्या…!



जिस दिन से बागपत जेल (jail)में माफिया मुन्ना बजरंगी की हत्या हुई, तभी से पुलिस प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है। पुलिस की कई टीमें पूरी मेहनत के साथ हत्या का खुलासा करने में लगी हुई हैं। इसी सिलसिले में पुलिस के हाथ वारदात का पूर्वांचल कनेक्शन लगा है। इससे यह शक पुख्ता हो गया है कि इस हत्या में सुनील राठी तो बस एक मोहरा है, बाकी पूरी साजिश पूर्वांचल में ही रची गई.जांच में पुलिस को यह पता लगा है कि 10 करोड़ रुपये की सुपारी लेकर मुन्ना बजरंगी को मौत के घाट उतारा गया है। 2019 में जौनपुर लोकसभा सीट पर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहा मुन्ना बजरंगी एक नेता के आड़े आ रहा था, जो कत्ल की मुख्य वजह बनी।बजरंगी के लोकसभा चुनाव लड़ने की चाह और एक बाहुबली से उसकी वर्चस्व की जंग भी जांच के दायरे में है। बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह बाहुबली पर हत्या कराने का आरोप भी लगा चुकी हैं।इसके साथ ही यह भी पता लगा है कि सुनील राठी इस हत्या का बस एक मोहरा था। कुख्यात सुनील राठी पूर्वांचल में अपनी पैठ बनाना चाह रहा था इसलिए उसे भी साजिश में शामिल किया गया। खबरे ये भी हैं कि सुनील राठी के पास जेल में काफी समय पहले से ही पिस्टल मौजूद थी।जानकारी के मुताबिक, जेल में बजरंगी की हत्या से एक दिन पहले जौनपुर के एक बैंक से करीब सात करोड़ रुपयों का ट्रांजेक्शन हुआ है। तीन करोड़ रुपये वहीं के दूसरे बैंक से निकाले गए। इसलिए 10 करोड़ की सुपारी का जिक्र जांच में शामिल किया गया है।आईजी, मेरठ रामकुमार ने बताया कि पुलिस हर बिंदु पर जांच कर रही है। सीमा सिंह के आरोप को भी गम्भीरता से लिया जा रहा है। उम्मीद है, जल्द घटना का राजफाश हो जाएगा। पुलिस को अहम सुराग मिले हैं।नेता बनने की चाह ने ली जान10 करोड़ के लिए हुई थी हत्या.

Loading...
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/