Breaking News

ड्राइविंग लाइसेंस से जुडी बड़ी खबर, अब घर बैठे मिलेगा आपको लाइसेंस !

लाइसेंस बनाने के लिए अक्सर लोगो को दफ्तर में कई चककर लगाने पड़ते है। और उन्हें कई टेस्ट से गुजरना पड़ता है। अब ड्राइविंग लाइसेंस प्राप्त करने के लिए सिर्फ टेस्ट देना होगा, उसे लेने के लिए परिवहन कार्यालय के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। लाइसेंस सीधे आवेदक के घर पहुंचेगा। शुरु में यह व्यवस्था सिर्फ जम्मू और श्रीनगर दो शहरों में होगी। अगर प्रयोग सफल रहा तो इसे राज्य के अन्य हिस्सों में भी लागू किया जाएगा।

Loading...



यह जानकारी परिवहन आयुक्त सौगट विस्वास ने विभागीय कामकाज की बैठक में दी। उन्होंने बिना स्पीड गवर्नर (गति नियंत्रक उपकरण) वाहन को फिटनेस सर्टिफिकेट जारी न करने और मोटरवाहन विभाग के अनुमति पत्र बिना व्यावसायिक वाहन बेचने वाले वाहन डीलरों के परमिट रद करने का भी आदेश दिया है।

परिवहन आयुक्त ने कहा कि ड्राइविंग टस्ट में सफल आवेदकों को लाइसेस स्पीड पोस्ट के जरिए उनके घर पहुंचाया जाएगा। इसके लिए उनसे शुल्क लिया जाएगा। इस प्रक्रिया से एआरटीओ कार्यालयों में लगने वाली भीड़ कम होगी। लाइसेंस आवेदन की प्रक्रिया पहले ही ऑनलाइन हो चुकी है। आवेदकों को सिर्फ टेस्ट देने के लिए ही आने की जरूरत रहेगी। लाइसेंस उनके घर पर भेज दिया जाएगा। इस व्यवस्था से फर्जी लाइसेंसों पर बी रोक लगेगी।

उन्होंने आरटीओ व एआरटीओ कार्यालयों में ट्रांसपोर्ट कंपनियों के गैर पंजीकृत एजेंटों के प्रवेश पर प्रतिबंध को भी पूरी तरह लागू करने का निर्देश दिए।अधिकारियों ने बताया कि सभी एआरटीओ कार्यालयों में विभागीय सतर्कता अधिकारियों के नाम अधिसूचित कर दिए गए हैं जो हर प्रकार की शिकायत का संज्ञान लेते हुए अपने अधिकारों के मुताबिक कार्रवाई करेंगे।

इसके अलावा आरटीओ और एआरटीओ कार्यालय में उपलब्ध ऑनलाइन सेवाओं के बारे में भी लोगों को अवगत कराया जा रहा है। विभागीय पोर्टल डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू.परिवहन.जीओवी.इन पर लोग आवेदन कर सकते हैं। राज्य में मई 2018 से 2500 सीएसएसी केंद्रों पर नागरिक और व्यावसायिक सेवाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/