Breaking News

मिस यूनिवर्स में भाग लेगी ये सुंदरी, बनेगी पहली ट्रांसजेडर प्रतिभागी

भारत में कई ऐसे ब्यूटी कॉन्टेस्ट होते हैं जो लोगों की प्रतिभा को निखारने का काम करते हैं। आमतौर पर आपने अभी तक महिला और पुरूषों के ब्यूटी कॉन्टेस्ट देखें होंगे। लेकिन आज हम आपको ट्रांसजेंडर ब्यूटी कॉन्टेस्ट के बारें में बताएंगे।

Loading...


वैसे भारत में ट्रांसजेंडर को थर्ड श्रेणी का  दर्जा प्राप्त हैं लेकिन अभी कई लोगों की मानसिकता में बदलाव आना बाकी है हाल ही दिनों में भारत में भी कई ट्रांसजेडर ब्यूटी कॉन्टेस्ट का आयोजन हुआ है लेकिन आज हम बात कर रहे हैं स्पेन की। जहां पहली बार किसी ट्रांसजेडर महिला ने मिस स्पेन का खिताब हासिल किया है।
अब वह मिस यूनिवर्स प्रतियोगिता में किसी भी देश की तरफ से भाग लेने वाली पहली ट्रांसजेंडर महिला होंगी। ऐसा बहुत कम देखा गया है कि किसी ट्रांसजेडर को में इतना बड़ा खिताब हासिल किया हो। एंजेला पोंस नाम की इस ट्रांसजेडर ने इतिहास रच दिया। है। क्योंकि विश्व में ऐसा पहली बार हुआ है कि किसी ट्रांसजेडर महिला को इतने बड़े मुकाम पर आने का मौका मिला हो। बता दें कि 29 जून को एंजेला के सिर पर मिस स्पेन का ताज सजा था। जिसमें एजेंला ने 22 सुंदर महिलाओं को पछाड़कर ये ताज अपने नाम किया था।
बीते कुछ सालों तक मिस यूनिवर्स ट्रांसजेडर लोगों को प्रतियोगिता में भाग लेने नहीं देता था लेकिन 2012 में मिस यूनिवर्स ने घोषणा की थी कि वह ट्रांसजेंडर ब्यूटी क्वीन्स को प्रतियोगिता में शामिल होने की अनुमति देगा। बता दे कि 2012 में कनाडा की 29 साल की एक मॉडल जेना तालाकोव ने यूनिवर्स प्रतियोगिता में ट्रांसजेंडर को अनुमति के लिए कानूनी लड़ाई लड़ी था। जिसके बाद ही ट्रांसजेडर्स को इस प्रतियोगिता में भाग लेने की अनुमति मिली थी। इसी बात को लेकर एंजला बेहद खुश है। मिस पोंस अब इस साल के आखिर में फिलीपींस में होने वाली मिस यूनिवर्स प्रतियोगिता में हिस्सा लेंगी।
एंजला ने अपनी खुशी जाहिर करते हुए सोशल मीडिया पर लिखा की स्पेन के नाम और यहां के रंगों को दुनिया के सामने पेश करने का मेरा सपना है। उन्हें इस बात का संतोष है कि उनके सिर पर कम से कम रीजनल क्राउन तो सज ही चुका है। यही बहुत सम्मान की बात है। एंजला का  सपना है वो विश्व सुंदरी का खिताब जीते और ट्रांसजेडर लोगों के लिए कुछ कर पाएं। 
एंजला पोंस ने पहले 2015 में मिस वर्ल्ड स्पेन में भाग लिया था, लेकिन वह खिताब लेने में नाकाम रही। पेजेंट पर अपनी जीत पोस्ट करते हुए उन्होंने कहा, “मैं सहिष्णुता और दूसरों के प्रति सम्मान से एक सिख लेना चाह रही हूं।
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/