Breaking News

मलाल के जिंदिगी पर बन रही बायोपिक, पहला मोशन पोस्टर रिलीज़

नई दिल्ली। इन दिनों मनो बॉलिवुड में मानों बायॉपिक या फिर सच्ची घटनाओं पर आधारित फिल्मों की बाढ़ सी आ गई है।निर्देशक आये दिन एक से बढ़ कर एक लोगों से प्रेरित कहानिया बना रहे है । 
जहां ‘राजी’, ‘परमाणु’ और ‘संजू’ जैसी फिल्में पर्दे पर कमाल कर चुकी हैं वहीं ‘सूरमा’, ‘गोल्ड’, और ‘मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी’ जैसी फिल्में लाइन में लगी हैं।वहीं एक नाम और जुड़ गया है और वो नाम है पाकिस्तान में तालिबान से लोहा लेने वाली नोबेल पुरस्कार विजेता मलाला युसुफजई का।

मलाला युसुफजई की बायॉपिक पहला का मोशन पोस्टर हुआ रिलीज

इसी बीच मंगलवार को नोबेल पुरुस्कार विजेता मलाला युसुफजई की बायॉपिक ‘गुल मकाई’ का मोशन पोस्टर रिलीज हो किया गया। जिसमे  रीम शेख के हाथ में एक किताब नजर आ रही है। जिसमें धूंआ निकल रहा है। वहीं पोस्टर के बैकग्राउंड में एक्टर कबीर बेदी की आवाज सुनाई दे रही है, ‘यह तब की बात है जब जिहाद और धर्म के नाम पर तालिबान पाकिस्तान और अफगानिस्तान को तबाह कर रहा था, तभी पाकिस्तान के एक छोटे वे गांव से एक आवाज उठी।’

‘गुल मकाई’ के फर्स्ट लुक को दर्शकों ने किया था खूब पसंद

मलाला
बता दें की लंबे समय से ‘गुल मकाई’ की तैयारी चल रही है। पिछले साल फिल्म का फर्स्ट लुक रिलीज किया गया था। जिसे दर्शकों ने बहुत पसंद किया था। इस फिल्म में टीवी शो ‘ये रिश्ता क्या कहलाता है’ में नायरा का किरदार निभा चुकी चाइल्ड एक्ट्रेस रीम शेख मलाला युसुफजई के किरदार में नजर आएंगी। बतौर लीड रोल रीम शेख की यह बॉलीवुड डेब्यू फिल्म है।

मलाला की मां का किरदार के रूप में नज़र आएगी दिव्या दत्ता

मलाला
फिल्म ‘गुल मकाई’ मलाला के शुरुआती दिनों के संघर्ष से शुरू होती है। फिल्म में दिखाया जाएगा कि कैसे स्वात घाटी में मलाला ने लड़कियों की शिक्षा के लिए संघर्ष शुरू किया था। फिल्म में मलाला की मां का किरदार दिव्या दत्ता निभा रहीं हैं। फिल्म मलाला के जीवन से जुडी कई घटनाओं से लाकर नोबेल पुरुस्कार जीतने तक के सफ़र को दिखेगा।

2014 में मलाला को मिला था शांति का नोबेल पुरुस्कार 

मलाला
साथ ही बता दें की मलाला युसुफजई पाकिस्तान की ऐक्टिविस्ट हैं जो वहां बचपन से महिला शिक्षा के लिए जागरुकता का काम कर रही थीं। 2012 में तालिबानियों ने उन्हें गोली मार दी थी, जिसके बाद ब्रिटेन में उनका इलाज किया गया। 2014 में मलाला को शांति का नोबेल पुरुस्कार मिला था।
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/