Breaking News

अमेरिका का यह एकतरफा कदम संसार के लिए नहीं अच्छा

ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने ईरान परमाणु समझौते से हटने को लेकर अमेरिका की रविवार(10 जून) को आलोचना की। वहीं, उन्होंने इसका संरक्षण करने की प्रयास को लेकर चीन, रूस व यूरोप की सराहना की। शंघाई योगदान संगठन (एससीओ) के सालाना सम्मेलन को संबोधित करते हुए रूहानी ने बोला कि अमेरिका दूसरे राष्ट्रों पर अपनी नीतियां थोपने की प्रयासकर रहा है जो सभी बड़ी शक्तियों के लिए एक चेतावनी है। उन्होंने बोला कि अमेरिका का यह एकतरफा कदम संसार के लिए अच्छा नहीं है।

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने भी समझौते से हटने को लेकर अमेरिका पर परोक्ष हमला करते हुए इस बात का जिक्र किया कि चाइना समझौते को बचाने के लिए रूस व अन्य राष्ट्रों के साथ कार्यकरना चाहता है। रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने भी अमेरिकी निर्णय की आलोचना करते हुए बोला कि यह कदम खाड़ी एरिया को अस्थिर कर सकता है।   बताते चलें कि चाइना व रूस सहित कई यूरोपीय राष्ट्र इस समझौते को बचाने की प्रयास कर रहे हैं।
G7 में छाया रहा ईरान के परमाणु प्रोग्राम का मुद्दा, अमेरिका ने किया है किनारा
जी 7 राष्ट्रों के नेताओं ने अमेरिका के साथ एक संयुक्त बयान में रविवार (10 जून) को संकल्प जाहीर किया कि वे यह सुनिश्चित करेंगे कि ईरान का परमाणु प्रोग्राम शांतिपूर्ण बना रहे। यह बयान ऐसे वक्त आया है जब यूरोपीय साझेदारी सहयोगी ट्रंप के इस अंतर्राष्ट्रीय समझौते से खुद को अलग करने के निर्णय से नाराज हैं।
कनाडा में हुए दो दिवसीय शिखर सम्मेलन के समापन के मौके पर नेताओं ने बोला कि हम ईरान के परमाणु प्रोग्राम को स्थायी तौर पर शांतिपूर्ण बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं। ईरान अंतर्राष्ट्रीय तौर किए गए वायदे के अनुरूप कभी भी परमाणु हथियार विकसित करने या हासिल करने की प्रयास नहीं करेगा।

Loading...
बयान में बोला गया है कि हम ईरान द्वारा प्रायोजित सभी आतंकवादी समूहों समेत आतंकवाद को धन मुहैया कराने की निंदा करते हैं। हम ईरान से मांग करते हैं कि वह आतंकवाद रोधी प्रयासों में सहयोग दे तथा एरिया में राजनीतिक निवारण , सुलह व शांति हासिल करके रचनात्मक किरदारनिभाए। जी 7 में जर्मनी , फ्रांस व ब्रिटेन जैसे राष्ट्र शामिल हैं। इन्होंने 2015 में अमेरिका के साथ मिलकर ईरान के साथ परमाणु समझौते पर हस्ताक्षर किए थे , जिसके बाद ईरान पर से पाबंदियां हटाई गई थीं।
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/