Breaking News

हिंदुस्तान के 5,000 फाइटर जेट्स ने भरी उड़ान

पश्चिमी सीमा पर पाक के साथ एयर कॉम्बैट ऑपरेशन में इजाफा करते हुए पिछले सप्ताह केवल तीन दिनों के अंदर हिंदुस्तान के 5,000 फाइटर जेट्स ने उड़ान भरी थी.
इंडियन वायु सेना अब फाइटर जेट्स को अरुणाचल प्रदेश की चाइनाव लद्दाख से लगी पूर्वी सीमाओं पर शिफ्ट कर रहा है ताकि इससे वहां ताकत बढ़ाई जा सके. यह एक्सरसाइज दो तरफा युद्ध के चलते नहीं बल्कि गगन शक्ति एक्सरसाइज के तहत किया गया.
एक वरिष्ठ ऑफिसर ने कहा- यह वर्ष 1986-1987 के ऑपरेशन ब्रासस्टैक्स ववर्ष 2001-2002 में ऑपरेशन पराक्रम के बाद हुआ अब तक का सबसे बड़ा एक्सरसाइज है. उस समय हिंदुस्तान संसद पर आतंकवादी हमले के बाद पाक के साथ युद्ध करने के लिए लगभग तैयार हो गया था.पाकवचाइना सीमा पर संभावित खतरे से निपटने के लिए कम से कम 42 फाइटर स्क्वाड्रोन्स की आवश्यकता है, लेकिन अभी भी इंडियन खेमे में केवल 31 है. इसके बावजूद भी वायु सेना इस एक्सरसाइज की मदद से खुद को तैयार कर रही है.
Image result for fighter jet images
सीमा पर लगभग 1,150 सैनिकों, विमानों, हेलीकॉप्टर व ड्रोन्स के साथ-साथ सैकड़ों एयर-डिफेंस मिसाइल, रडार, निगरानी के लिए व दूसरी इकाइयों को हाई-वोल्टेज एक्सरसाइज के लिए तैनात किए गए हैं. यह एक्सरसाइजइंडियन सेना व नौसेना की सक्रिय भागीदारी के साथ ही भूमि-हवाई-समुद्री लड़ाकू अभियानों के लिए हो रही है. वायुसेना ने आवश्यकता पड़ने पर 83 फीसदी सेवा क्षमता को प्राप्त करने के लिए व्यवस्थित तरीके से कार्य किया है. इसके तहत किसी निश्चित समय पर विमान संचालन की उपलब्धता रहेगी. इसके अतिरिक्तभारत एयरोनॉटिक्स व बेस रिपेयर डिपो जैसे रक्षा सार्वजनिक उपक्रमों के साथ-साथ शांत समय में 55 फीसदी से 60 फीसदी सेवाक्षमता हासिल की गई.
वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल बिरेंद्र सिंह धनोआ ने कहा- इस एक्सरसाइज के जरिए हमारा लक्ष्य परिचालन क्षमता व असल युद्ध जैसी स्थिति से निपटने को लेकर खुद को तैयार करने का है.इसके साथ ही उच्च गति ऑपरेशन को बनाए रखने की हमारी क्षमता की जांच करना है. इसका किसी भी राष्ट्र के लिए उद्देश्य नहीं है.
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
http://newsindialive.in/ Digital marketting agency/